Search

0.6 — आपके पहले program को compile करना

इससे पहले की हम अपना पहला program लिख सके (जो हम बहुत जल्द करने वाले हैं), हमे development environments के बारे में कुछ बाते जानने की ज़रूरत है ।

सबसे पहला, हमारे सारे programs .cpp files में ही लिखे जायेंगे, लेकिन ये .cpp files खुद किसी project से जुड़ी होंगी । एक project, हमारे सारे code files जिन्हें हम compile करना चाहते है, उनके नाम store करता है और साथ ही कई IDE settings भी save करता है । जब भी हम किसी project को दोबारा open करते हैं, ये IDE की उस अवस्था को वापस restore कर लेता है जहाँ हमने पिछली बार काम छोड़ा था । जब हम file को compile करने का option चुनते हैं, तब project linker और compiler को ये बताता है की किन files को compile करना है । यहाँ ध्यान देने लायक बात ये है, की किसी एक IDE की project files किसी दूसरी IDE में काम नहीं कर सकतीं । आपको आपके हर program के लिए एक नया project बनाना होगा (या पुराने project को overwrite करना होगा) ।

दूसरा, projects कई तरह के होते हैं । जब आप एक नया project बनाते हो, आपको एक project type चुनना होगा । हम इन tutorials में जितने भी projects बनायेंगे, वे console projects होंगे । Console project का मतलब हम ऐसे projects बनाने वाले हैं, जो केवल dos या linux command-line पे ही run करेंगे । By default, console applications का कोई graphical user interface (GUI) नहीं होता और ये stand-alone executable files के रूप में compile होते हैं । ये (console projects) C++ सिखने के लिए सबसे आसान और अच्छा तरीका माना जाता है ।

तीसरा, जब आप program के लिए एक नया project बनाते हो, बहुत सारी IDEs आपके project को एक “workspace” या “solution” में जोड़ देतीं हैं । एक workspace या solution एक ऐसा conatiner है जिसमे एक तरह के एक से ज्यादा projects देखे जा सकते हैं । यद्दपि आप एक ही solution में कई projects जोड़ सकते हैं, हमारी सलाह है कि हर एक नये program के लिए एक नया solution या workspace बनाया जाये । ये ज्यादा आसान है और इसमें गलतियाँ होने की संभावना भी कम रहती है ।

परंपरा के अनुसार, programmers जो पहला program लिखते हैं वो प्रचलित hello world program होता है, और हम भी आपको उस “पहले program” वाले अनुभव से वंचित नहीं रखना चाहते! आप इसके लिए शायद बाद में हमारा शुक्रिया अदा करोगे । शायद !

ऐसे examples जिनमे codes सम्मिलित हैं उनकी एक छोटी सी व्याख्या

इस lesson से शुरुआत करते हुए, आप ऐसे बहुत से examples देखोगे जिनमे C++ codes लिखे गए हों । इनमे से ज्यादातर कुछ इस तरह के होंगे:

यदि आप code को अपने mouse से select कर इसे copy/paste करोगे, तो संभव है की code के साथ line numbers भी copy/paste हो जायेंगे ( आप किस तरह से code को select कर रहे हो, ये इस बात पर depend करेगा) । यदि ऐसा है, तो आपको line numbers को खुद से remove करना पड़ेगा ।

यदि आप Visual Studio IDE का इस्तेमाल कर रहे हो

भले ही ये section Visual Studio 2005 के अनुसार लिखा गया है, लेकिन ये Visual Studio के लगभग सभी versions के लिए एक जैसा काम करेगा ।

Visual studio में project बनाने के लिए, पहले File menu में जाएँ और वहां New -> Project select करें । एक dialog box सामने आएगा जो कुछ इस तरह का दिखेगा:

VC2005 Project Dialog

सबसे पहले ध्यान दें की बायीं ओर “Visual C++” select किया गया हो

अब “Visual C++” के नीचे Win32 project type select करें और फिर Win32 Console Application को select कर लें । इसके बाद Name field में आप अपने program का नाम लिखोगे । यहाँ HelloWorld type करें । अब Location field में एक डायरेक्टरी चुने जहाँ आप अपने project को रखना चाहोगे । हमारी सलाह है की आप अपने project को C drive के किसी subdirectory में रखो, जैसे की C:\VC2005Projects । अब OK और फिर Finish पर click करें ।

बायीं तरफ, आपके Solution Explorer में, Visual Studio ने आपके लिए कुछ files बना लिए हैं, जिसमें stdafx.h, HelloWorld.cpp, और stdafx.cpp शामिल हैं ।

Initial Visual C++ program

Text editor में आप देखोगे की VC2005 ने आपके लिए पहले से कुछ codes बना लिए हैं । उन codes को select कर delete कर लीजिये, और नीचे दिए गए code को अपने editor में type या copy कर लीजिये:

आपको जो मिलेगा वो कुछ ऐसा दिखाई देगा:

Visual C++ hello world program

program को compile करने के लिए, या तो key F7 को press करें या फिर Build menu में जाकर “Build solution” का चयन कर ले । यदि सबकुछ सही रहा, तो आपको output window में कुछ ऐसा देखने को मिलेगा:

Successful build

इसका मतलब है आपका compile सफल रहा!

अब आपके compiled program को run करने के लिए ctrl-F5 press करें या फिर Debug menu में जाकर “Start Without Debugging” का option select करें । आपको कुछ ऐसा देखने को मिलेगा:

Program run

ये आपके program का result है!

Visual Studio users के लिए एक ज़रूरी note: Visual studio programs हमेसा इस line के साथ शुरू होने चाहिए:

नहीं तो आपको एक compiler warning मिलेगा, जो कुछ इस तरह का होगा c:testtest.cpp(21) : fatal error C1010: unexpected end of file while looking for precompiled header directive

वैकल्पिक रूप से, आप precompiled headers को off कर सकते हो । लेकिन precompiled headers का इस्तेमाल आपके program को ज्यादा तेज बनाता है, इसलिए हमारी सलाह है की यदि आप cross-platform program नहीं बना रहे, तो उन्हें वैसे ही रहने दो ।

हम इन tutorials में आपको जो example programs दिखायेंगे उनमे ये line नहीं होगा, क्यूंकि ये केवल एक विशिष्ट compiler के लिए ज़रूरी है अर्थात compiler-specific है ।

यदि आप Code::Blocks IDE का इस्तेमाल कर रहे हो

एक नया project बनाने के लिए, पहले File menu में जाएँ और वहां New Project select करें । इसके बाद एक dialog box खुलेगा जो कुछ ऐसा दिखेगा:

Code::Blocks Project Dialog

यहाँ से Console Application select कर Create button press करें ।

आपसे project को save करने के लिए पूछा जायेगा । आप इसे अपनी इच्छा के अनुसार जहाँ चाहो save कर सकते हो, फिर भी, हमारी सलाह है की आप इसे C drive के किसी subdirectory में ही save करो, कुछ इस तरह C:\CBProjects । अब आप अपने project का नाम HelloWorld दीजिये ।

Code::Blocks Save Project Dialog

आप default workspace के अन्दर “Console Application” देखोगे :

Code::Blocks Project Closed

यहाँ से “Console Application” के tree को open करें, अब “Sources” को open कर “main.cpp” पर double click करें । आप देखोगे की आपके लिए hello world program पहले से ही लिखा जा चूका है !

अब अपने project को build करने के लिए ctrl-F9 press करें या फिर Build menu में जाकर “Build” को चुन लें । यदि सबकुछ ठीक रहा, आपको Build log window में ये देखने को मिलेगा:

Successful build

इसका मतलब है, आपका program सफलतापूर्वक compile हो चूका है!

आपके compiled program को run करने के लिए ctrl-F10 press करें या फिर Build menu में जाकर “Run” select करें । आपको कुछ इस तरह देखने को मिलेगा:

Program run

ये आपके program का result है!

यदि आप किसी command-line based compiler का इस्तेमाल कर रहे हैं

किसी HelloWorld.cpp नामक text file में ये code paste करें:

अब command line में type करें:

g++ -o HelloWorld HelloWorld.cpp

ये HelloWorld.cpp को compile और link करेगा । अब इसे run करने के लिए type करें:

HelloWorld (या संभवतः ./HelloWorld), और आप अपने program का output देखोगे ।

यदि आप दूसरी IDEs का इस्तेमाल कर रहें हैं

आपको पता लगाना होगा की नीचे दिए गए काम कैसे करनें हैं:
1) एक console project बनाना
2) Project में एक .cpp file जोड़ना (यदि ज़रूरी हो तो)
3) नीचे दिए गए code को file में paste करना:

4) Project को compile करना
5) Project को run करना

यदि compiling fail हो गया है(“ओ हो, कुछ गड़बड़ हो गयी!”)

कोई बात नहीं, एक गहरी सांस लो, शायद हम इसे fix कर सकते हैं । 🙂

सबसे पहले, check करो की आपने code की एक-एक line को सही type किया है, बिना किसी typo या words को misspell किये (ये भी sure कर लो की आपने code में line numbers को नहीं मिलाया है) । Compiler का error message आपके code में क्या और कहाँ गलती है, ये बताते हुए कोई सुराग दे सकता है ।

दूसरा, section 0.7 -- C++ में आने वालीं कुछ सामान्य परेशानियाँ को check करें, वहाँ कई problems के बारे में बताया गया है ( COFF के साथ, जो आप में से कईयों को मिला होगा) ।

यदि ये नाकामयाब रहा, तो अपने error message को Google में खोजने की कोशिश करें । हो सकता है किसी और को भी यही problem आई हो और उसने किसी तरह इसे fix कर लिया हो ।

यदि आप किसी बहुत पुराने C++ compiler का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो compiler, iostream को कैसे include करना है इस बारे में error दे सकता है । यदि ऐसी बात है, तो लिखे गए code की जगह इसका इस्तेमाल करें:

यदि बात वही थी, तो आपको compiler update कर लेना चाहिए जो हाल के standards के अनुसार बनाया गया हो ।

यदि आपका program run तो करता है पर window इसके तुरंत बाद बंद हो जाता है

कुछ compilers के साथ ये दिक्कत भी होती है, जैसे की Bloodshed का Dev-C++ । हमने इस problem का एक solution 0.7 -- C++ में आने वालीं कुछ सामान्य परेशानियाँ में प्रस्तुत किया है ।

निष्कर्ष

बधाई हो, आपने इस tutorial के सबसे मुश्किल भाग को पार कर लिया है (IDE install कर अपना पहला program run करना)!

यदि आपको समझ नहीं आ रहा कि Hello World program में लिखे गए codes की lines का क्या मतलब है, तो चिंता मत कीजिये । आने वाले section 1.1 -- किसी program का structure में हम आपको इसके हर एक line को detail से समझायेंगे ।

0.6a -- Build configurations
Index
0.5 -- एक Integrated Development Environment (IDE) install करना

Leave a Comment

Put C++ code inside [code][/code] tags to use the syntax highlighter